Home > India > Tata Funding Wire पर लोगो का विरोध, इस News Portal को टाटा ने क्यों रुपये दिए? Uploader Leaks

Tata Funding Wire पर लोगो का विरोध, इस News Portal को टाटा ने क्यों रुपये दिए? Uploader Leaks

TataFundingWire RatanTataFundingWire
Spread the love





भारत के संविधान में मीडिया को चौथा स्तम्भ कहा गया है। मतलब भारत में मीडिया का एक अपना रुतबा और सम्मान है। अब जब ज़माना डिजिटल हो गया, तो मीडिया रेडियो, अख़बार और टेलीविजन से बाहर निकालकर सोशल मीडिया वेबसाइट पर आ गया। अब देश ही नहीं पूरी दुनिया में एक डिजिटल क्रांति छिड़ी हुई है। ऐसे में News Websites का मीडिया क्षेत्र में बहुत बड़ा योगदान है।

अनेक Media Websites Digital Journalism के क्षेत्र में अच्छा काम कर रही है, किन्तु कुछ ऐसी न्यूज़ मीडिया वेबसाइट हैं जो गलत जानकारी छापकर जनता और सोशल मीडिया यूज़र्स को गुमराह करने का काम कर रही हैं। जो वेबसाइट फ़िलहाल मोदी विरोधी या भाजपा विरोधी आर्टिकल्स बनाती है, उन्हें पाकिस्तान, दुबई, सऊदी और अमेरिका जैसे देशो से फंडिंग मिलने की बात सामने आती रही है।



किन्तु जब देश की एक जानी मानी कंपनी जिसपर देशवासियों को गर्व हो, वही ऎसी किसी Fake News Website को Funding करने लग जाये वो भी करोड़ो रुपये तो आप क्या करेंगे? जी हाँ कल ऐसा ही नज़ारा ट्विटर पर देखने को मिला। कल से सोशल मीडिया पर एक Paper Leak हुआ, जो ज़बरदस्त वायरल हो रहा है। उस पेपर को लोग एक ट्रेंड के साथ शेयर कर रहे है और वह ट्रेंड है #TataFundingWire .

इस ट्रेंड को देखकर तो आप समझ ही गए होंगे की Tata Company की तरफ से मोदी विरोधी News Website Wire को Funding की गई है। वायरल हो रहे एक leak Paper में यह साफ़ देखा जा सकता है की Independent Journalism Plateform The Wire को Tata Trust Fund की ओर से एक करोड़ से भी जादा की फंडिंग की गई है।




इस पेपर की माने तो एक बड़ी रकम मीडिया पोर्टल थे वायर को फण्ड के रूप में ट्रांसफर की गई है। इस पेपर को ट्वीट करते हुए विकाश पांडे ने लिखा की “I was shocked to see that a company we Indians take pride in, funds the most communal website ever! The Wire”

एक अन्न यूजर अंकित जैन (@indiantweeter) ने लिखा की “Hello Ratan Tata Ji your company is known to be nationalist and your salt is called Desh ka Namak, your trust funding anti National the wire who can’t see anything good happening with India. TATA Funding Wire”

एक अन्न यूजर Bhaiyya ji (@shrialokmishra) ने लिखा की “If you buy anything from Tata Companies or using the facility, like Tata Salt, Tata Cars, Tata Home appliances, Tata power, Tata solar, Tata Steel, Tata coffee, Tata Sky, Tata Teleservices, Titan watches, Taj Hotels, Tata Tea. Then your funding propaganda site the wire because TATA Funding Wire.” मतलब कुछ लोग टाटा गृउप के सामान का बहिष्कार करने का मन बना चुके हैं, ऐसी में टाटा कंपनी को बड़े नुक्सान होने का अनुमान लगाया जा रहा हैं।




एक अन्न यूजर Mitesh Jain ने इस पेपर को पोस्ट करते हुए लिखा की “Surprised & shocked to know that TATA group which is common name in every Indian household, is funding anti-India rhetoric based publishing house the wire. This fake news publishing website has received 1,16,00,000 from TATA Trust Fund. Means TATA Funding Wire”

अब देखना होगा की इस मुद्दे पर टाटा ग्रुप या रतन टाटा की तरफ ने क्या बयान आता है? अगर सच में Ratan Tata के Tata Group ने Anti Modi News Website और Digital Media Plateform को Funding की है तो आखिर क्यों?

देश में एक देशभक्त कंपनी का दर्ज़ा रखने वाली टाटा कंपनी को ऐसी न्यूज़ वेबसाइट को आर्थिक मदत करने की क्या जरुरत थी। जानकारों की माने तो यह बड़ी बिज़नेस उलझन की वजह से किया जाना हो सकता है। अनेकों कंपनी में आपस में टक्कर बनी रहती है। मोदी सरकार के रहते अनेको सम्मानित कंपनी को कई काम और टेंडर मिले जिनमे अनिल अम्बानी और मुकेश अम्बानी की Reliance भी शामिल है।



यहाँ पर Tata Group को हो सकता है की किसी दूसरी पार्टी की सरकार और किसी और के प्रधानमंत्री बनने पर जादा फायदा दिख रहा हो? तो 1-2 करोड़ लगाके अगर सरकार या प्रधानमंत्री के विरोध में माहोल बनता है तो सौदा बुरा नहीं है। अभी यह खबर प्रमाड़ित तो नहीं है पर कोई भी जानकार पहली नज़र में देखने से तो यही भविष्यवाणी करेगा। इसी को तो कहते है Opinion Poll, जो आजकल एकदम सही जानकरी दे रहे हैं।

Facebook Comments

Spread the love
Nitin Chourasia
Nitin Chourasia
Uploaderleaks is online news portal in Hindi. Nitin Chourasia is the founder and chief editor of this portal. If any query mail on uploaderleaks@gmail.com
http://www.uploaderleaks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!