Home > India > म्यांमार में हो रही सांप्रदायिक हिंसा का असली सच जानें, आख़िर कौन हैं रोहिंग्या मुसलमान ? Uploaderleaks

म्यांमार में हो रही सांप्रदायिक हिंसा का असली सच जानें, आख़िर कौन हैं रोहिंग्या मुसलमान ? Uploaderleaks

uploaderleaks uploaderleak
Share This Post
loading…


POST BY : UPLOADER LEAKS

पड़ोसी देश ‘म्यांमार’ में हो रही सांप्रदायिक हिंसा ने अब दुनियाभर में चिंता बढ़ा दी है ! संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी आयोग ने हाल ही में कहा कि रखाइन स्टेट में जातीय और धार्मिक समुदायों के खिलाफ हो रही लगातार हिंसा में मरने वाले की संख्या बढ़ी है और महिलाओं और हिंसा में तेज़ी आई है !

सबसे पहले 2012 में पश्चिमी रखाइन स्टेट के कुछ हिस्सों में हिंसक झड़पें शुरू हुईं ! तब से हिंसक घटनाएं मध्य म्यांमार और हाल ही में मैनडले तक पहुंच गई है जो दर्शाता है कि ये जातीय हिंसा पूरे म्यांमार में किस तरह से फैल रही है ! सबसे घातक हिंसा रखाइन बौद्ध और रोहिंग्या मुसलमानों के बीच जून 2012 में शुरू हुई ! एक स्थानीय बौद्ध महिला के बलात्कार और फिर हत्या की ख़बर के बाद ये हिंसा शुरू हुई थी ! इस सांप्रदायिक हिंसा में 200 लोगों की मौत हो गई और हज़ारों बेघर हो गए !

Loading…

मार्च 2013 में मध्य म्यांमार के मेकटिला स्थित एक गहनों के दुकान में बहस की एक घटना के बाद स्थानीय लोगों और मुसलमानों के बीच हिंसक झड़पें हुईं ! इसमें 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई साथ ही साथ आसपास का पूरा इलाका ढहा दिया गया ! अगस्त 2013 में मध्य कानबालू शहर में दंगाइयों ने उस वक्त रोहिंग्या मुसलमानों के घरों और दुकानों को जला दिया जब पुलिस ने एक मुसलमान युवक को उन्हें सौंपने से इनकार कर दिया जिस पर महिला के बलात्कार का इल्ज़ाम था !

Read This Aslo- कर्नल पुरोहित ने एक्सपोज़ कर दिया कॉंग्रेस को, सुन और देख कर हर भारतीय सहम जायेगा (Video)

जून 2014 में म्यांमार के मैनडले शहर में सोशल मीडिया के ज़रिए एक खबर फैली कि एक महिला से एक या उससे अधिक रोहिंग्या मुसलमानों ने बलात्कार किया है, इसके बाद 2 लोगों की हत्या हो गई और पांच अन्‍य घायल हो गए !

रखाइन प्रांत में ख़ासतौर पर बहुसंख्यक बौद्धों और अल्पसंख्यक मुसलमानों के बीच काफी कड़वाहट है ! ज्यादातर मुसलमान खुद को रोहिंग्या बताते हैं जिनकी उत्पत्ति बांग्लादेश में हुई ! बांग्लादेश से सटे शहरों, जहां काफी हिंसक घटनाएं हुई हैं, वहां मुसलमान बहुसंख्यक हैं ! विदेशों में स्थित रोहिंग्या अधिकार समूहों का कहना है कि हिंसा की सभी घटनाओं में रोहिंग्या मुसलमानों को ही खामियाज़ा भुगतना पड़ा !

Read This Also – BJP प्रवक्ता ने TV डिबेट में शबनम लोने को कहा ‘ आतंकवादी की बेटी’ और कश्मीरी अलगवादी इरफ़ान लोने को ‘पाकिस्तानी सूअर के दलाल

जबकि रखाइन बौद्धों का मानना है कि इसके लिए रोहिंग्या ही ज़िम्मेदार हैं ! रखाइन बौद्धों का का कहना है की रोहिंग्या मुसलमानों ने सबसे पहले अपराध और हिंसा की शुरुआत की और तभी से ज़वाब मे यह सांप्रदायिक हिंसा भड़की !

आख़िर रोहिंग्या कौन हैं ? खबरों की माने तो संयुक्त राष्ट्र रोहिंग्या मुसलमानों को मध्य म्यांमार के धार्मिक और भाषाई अल्पसंख्यक बताते हैं ! संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक ये दुनिया के सबसे प्रताडि़त अल्पसंख्यकों में से हैं !

loading…



खबरों की माने तो रोहिंग्या शब्द की उत्पत्ति और कैसे वो म्यांमार में आए ये विवादित है ! जहां कुछ इतिहासकारों का मानना है कि ये समुदाय सदियों पहले आया, वहीं कुछ का मानना है कि पिछली सदी से ही इनकी उत्पत्ति हुई है !

म्यांमार सरकार का कहना है कि ये भारतीय महाद्वीप से हाल ही में आए शरणार्थी हैं ! यही कारण है कि देश का संविधान उन्हें नागरिकता प्रदान करने के लिए उपयुक्त नहीं मानता ! रखाइन बहुसंख्यक रोहिंग्याओं के खिलाफ हैं जिन्हें वो केवल दूसरे देश से आए मुसलमानों के रूप में देखते हैं ! म्यांमार में आमतौर पर लोग रोहिंग्याओं के खिलाफ हैं ! दूसरी तरफ रोहिंग्याओं को लगता है कि वो म्यांमार का हिस्सा हैं का दावा करते हैं कि उनका उत्पीड़न किया जाता है !

Loading…

……….

Dear Friends Pleace connect with Uploader Leaks via our facebook page and twitter handle.
Click For LIke Our Facebook Page :- UploaderLeaks

Share This Post
Nitin Chourasia
Nitin Chourasia
Uploaderleaks is online news portal in Hindi. Nitin Chourasia is the founder and chief editor of this portal. If any query mail on uploaderleaks@gmail.com
http://www.uploaderleaks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2018 All Rights Reserved | Owned by Uploader Leaks Media.