Home > India > RSS से तुलना करने वाले राहुल गाँधी की माँ सोनिया और मुस्लिम ब्रदरहुड नेता मोहम्मद मोर्सी की फोटो वाइरल

RSS से तुलना करने वाले राहुल गाँधी की माँ सोनिया और मुस्लिम ब्रदरहुड नेता मोहम्मद मोर्सी की फोटो वाइरल

RahulGandhiWithISIS RahulGandhiTerriost
Share This Post

अभी आलम यह है की राहुल गाँधी करना तो सीधा चाहते हैं पर हो उल्टा जाता है। हाल ही में कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर हमला बोला था और संघ को बदनाम करने की भरपूर कोशिश की है। राहुल गाँधी ने जर्मनी मे और फिर लंदन में संघ RSS पर हमले किए थे।

आपको पता होगा की जर्मनी में राहुल गाँधी ने RSS की तुलना अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठन आइएस से की थी। राहुल ने कहा था कि कांग्रेस एक तरफ देश के लोगों को जोड़ रही है, तो वहीं भाजपा और RSS देश को तोड़ने में लगी हैं। इसके बाद लंदन के इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्ट्रैटेजिक स्टडीज में एक कार्यक्रम में बोलते हुए राहुल गाँधी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) को अरब देशों में सक्रिय आतंकी संगठन मुस्लिम ब्रदरहुड जैसा बता दिया।




इससे पहले बर्लिन में इंडियन ओवरसीज कांग्रेस को संबोधित करते हुए आहूल गाँधी ने कहा था कि भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) समाज को बांटने और घृणा फैलाने का काम कर रहे हैं। कांग्रेस के काम करने का तरीका भापज़ा की नरेंद्र मोदी सरकार से बिल्कुल अलग है।

आपको पहले ओ बता दें की मुस्लिम ब्रदरहुड नाम के संगठन की स्थापना मिस्र मे 1928 में की गई थी। मुस्लिम ब्रदरहुड की स्थापना एक शिक्षक ने की थी। इस संगता की स्थापना करने वाले शिक्षक का नाम हसन अल बन्न था। ऐसे अनेक देश है जो मुस्लिम ब्रदरहुड को आतंकी संगठन मानते हैं। यही कारण है की यह कई अरब देशों में प्रतिबंधित है।

अब संघ से ग़लत तुलना करने के बाद राहुल गाँधी को तगड़ा झटका लगा है। अब सोशाल मीडीया मे कई लोग मुस्लिम ब्रदरहुड के चीफ़ मोहम्मद मोर्सी के साथ सोनिया गाँधी और मनमोहन सिंग की पुरानी फोटो शेयर कर रहे हैं।





आप नीचे देख सकते हैं की इस यूज़र ने फोटो ट्वीट की है जिंसमे मुस्लिम ब्रदरहुड के चीफ़ मोहम्मद मोर्सी के साथ सोनिया गाँधी और मनमोहन सिंग दिखाई दे रहे हैं। असल मे रह तस्वीरे कॉंग्रेस की सरकार के वक़्त की है और उसी वक़्त ब्रदरहुड का नेता मोहम्मद मोर्सी मिस्र का राष्ट्रपति था। तब कॉंग्रेस और कॉंग्रेस के नेताओं की नज़दीकियाँ मोहम्मद मोर्सी से कुछ जादा ही थी।

मुस्लिम ब्रदरहुड असल मे अरब देशों के सुन्नी मुसलमानों का धार्मिक संगठन था जो आगे जाके व राजनीतिक संगठन बन गया। यह राजनीतिक रूप से सक्रिय होने के साथ साथ हिंसक और आतंकी गतिविधियों में शामिल रहा था। मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मुहम्मद मुर्सी इसी संगठन के मुखिया था थे। अब यह मिस्र मे भी बेन है।


इस संगठन का असल मकसद अन्य देशों में भी इस्लाम का प्रचार करना और इस्लामिक कानून अर्थात शरिया क़ानून लागू करना रहा है। मुस्लिम ब्रदरहुड संगठन पर आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप है। हिंसा फैलाना इस संगठन का असल कार्य रहा है, इसी कारण इस संगठन को सऊदी अरब, रूस, सीरिया, बहरीन, संयुक्त अरब अमीरात और खुद मिस्र में आतंकी संगठन घोषित कर रखा है।

Share This Post
Nitin Chourasia
Nitin Chourasia
Uploaderleaks is online news portal in Hindi. Nitin Chourasia is the founder and chief editor of this portal. If any query mail on uploaderleaks@gmail.com
http://www.uploaderleaks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *