Home > India > जबलपुर के News Trap नामक समाचार पत्र पर फ़र्ज़ी न्यूज़ लिखने पर बड़ी कारवाही : Jabalpur Khabar

जबलपुर के News Trap नामक समाचार पत्र पर फ़र्ज़ी न्यूज़ लिखने पर बड़ी कारवाही : Jabalpur Khabar

NewsTrapJabalpur JabalpurHindiNews
Spread the love





भारत में मीडिया का बहुत बोल बाला है। सवा सो करोड़ की जनता तक हर मीडिया चैनल और अखबार पहुँचना चाहता है। मीडिया को भारत के संविधान का चौथा स्तम्भ कहा गया है। किन्तु आज के समय में मीडिया को अनेकों ने बदनाम कर डाला और मीडिया की छवि को धूमित कर दिया है। अब एक तरफ़ा जानकारी और पेड न्यूज़ दिखाना या एक एजेंडे पर पत्रकारिता करना आम हो गया है।

ऐसे ही एक फ़र्ज़ी खबर छापने और एक सरकारी अफसर को बदनाम करने के मामले में मध्यप्रदेश के जबलपुर शहर के एक साप्ताहिक समाचार पत्र News Trap का नाम सामने आया हैं। दैनिक भास्कर में छपी खबर और जबलपुर में लोगो के कहे अनुसार न्यूज़ ट्रैप एक साप्ताहिक समाचार अख़बार है जो जबलपुर से प्रकाशित हैं। प्रेस कौंसिल ऑफ़ इंडिया में गलत और फ़र्ज़ी खबर छापने के आरोप में News Trap साप्ताहिक समाचार पत्र को सेंसर करने का आदेश दिया है।



Press Council Of India ने मध्यप्रदेश की सरकार को कहा है की आदेश पर जांद ही कड़ी कार्यवाही करके तुरंत सूचित किया जाये। असल में मध्यप्रदेश के जबलपुर के विजय नगर में रहनेवाले मनोज कुमत सिंह ने शिकायत की थी की इस समाचार पत्र न्यूज़ ट्रैप ने उनके खिलाफ झूठी और बेबुनियादी खबर छापी थी।

आपको बता दे की मनोज कुमार जबलपुर विक्टोरिया अस्पताल में सहायक के पर पर तैनात हैं और नौकरी कर रहे हैं वहीँ न्यूज़ ट्रैप ने अपने समाचार पत्र में खबर छापी थी की मनोज कुमार ने अपने जन्म प्रमाद पत्र में हेरा फेरी करके यह नौकरी और पद पाया था साथ ही वे इस पद पर 20 साल से पैठे हुए हैं। किन्तु सच तो कुछ और निकला संपादक जी?

शिकायत करने वाले मनोज कुमार सिंह ने न्यूज़ ट्रैप के आरोपों को फ़र्ज़ी बताते हुए बताया की “वे भोपाल के गाँधी मेडकल कॉलेज में नेत्र सहायक के पद पर 28 साल नौकरी पर रह चुके हैं और अब विक्टोरिया अस्पताल में कार्यरत हैं।”



Press Council Of India ने इस शिकायत पर मसले के जांच के लिए एक जांच कमेटी बनाई थी और जांच के आदेश दिए थे किन्तु न्यूज़ ट्रैप अख़बार के संपादक ब्रजेश मिश्रा 24 July 2018 को PCI की जांच कमेटी के सामने हाज़िर नहीं हुए और पूछने पर भुखार का हवाला देकर सामने नहीं आये। ऐसे में चोर की दाढ़ी में तिनका वाली कहावत याद आती हैं।

इसके बाद PCI जाँच कमेटी ने जाँच में पाया की News Trap Jabalpur के पास समाचार प्रकाशित करने के प्रमाढ़ नहीं हैं और खबर का भी कोई आधार नहीं है। Press Council of India ने शिकायतकर्ता मनोज कुमार की शिकायत को सही मानते हुए न्यूज़ ट्रैप की खबर को फ़र्ज़ी और निराधार पाया, इसके बाद साप्ताहिक समाचार पत्र न्यूज़ ट्रैप को सेंसर करने ला देश दे दिया मतलब जबलपुर से प्रकाशित यह समाचार पात्र जो अपने Logo में खबरों का पोस्टमार्टम करने की बात कहता है वह अब फ़र्ज़ी घोषित हो चूका है।




Spread the love
Nitin Chourasia
Nitin Chourasia
Uploaderleaks is online news portal in Hindi. Nitin Chourasia is the founder and chief editor of this portal. If any query mail on uploaderleaks@gmail.com
http://www.uploaderleaks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *