Home > India > काजल सिंगाला पर टिप्पड़ी करने पर भीम आर्मी चीफ़ रावण पर FIR, दिमागी गंदगी की सफाई जरुरी

काजल सिंगाला पर टिप्पड़ी करने पर भीम आर्मी चीफ़ रावण पर FIR, दिमागी गंदगी की सफाई जरुरी

Kajal Hindustani News Bhim Army Chief Ravan
Share This Post

Demo Photo Credits: Twitter

Delhi: एक बार फिर अपने सोशल मीडिया अकाउंट के कमेंट की वजह से मुश्किल में पड़ता दिखाई दे रहा है। महिला शक्ति के अपमान का कहर इस रावण पर कभी भी टूट सकता है। इस बार खुद को दलितों का कथित ठेकेदार और मसीहा बताने वाला भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर रावण जेल की हवा खा सकता है। चंद्रशेखर रावण ने खिलाफ सख्त FIR करवाई गई है। देश में विख्यात वीडियो ब्लॉगर और समाज सेविका काजल शिंगाला (Kajal Shingala) ने इस बात की जानकरी दी है।




काजल सिंगाला ने अनुसार आज भीम आर्मी चीफ़ चंद्रशेखर रावण के ख़िलाफ़ FIR हो गई है। उनको तरफ से टीम अग्निवीर की दलित ऐक्टिविस्ट प्रेरणा जी ने भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर रावण (Bhim Army Chief Chandrashekhar Ravan) के ख़िलाफ़ हैदराबाद में FIR कर दी है। इस जंग में सोशल मीडिया में सभी यूजर का समर्थन मिलने पर काजल हिंदुस्तानी (Kajal Hindustani) अर्थात काजल सिंगाला ने कहा की सभी ने हमारा बहुत साथ दिया और हमारा मनोबल बढ़ाया, हम सदेव आप सभी के आभारी रहेंगे।

आपको बता दे की भीम आर्मी के फाउंडर चंद्रशेखर रावण के कुछ पुराने ट्वीट अभी वायरल हुए हैं। इनमें काजल सिंगाला समेत 3 महिलाओं पर अभद्र कमेंट चंद्रशेखर रावण के ट्विटर अकाउंट से लिए गए थे। इनमे देखा गया की वह काजल हिंदुस्तानी और अन्न 2 महिलाओं को अपशब्द कमेंट करते हुए सभी सीमाएं लाँघ गया। चंद्रशेखर रावण ने वीडियो ब्लॉगर काजल हिंदुस्तानी के नाम से मशहूर काजल सिंगाला को पॉइंट किया था, इनके अलावा एक महिला पत्रकार पर भी बहुत बेहूदी टिपड़्ड़ी की गई थी।

सोशल मीडिया पर अब लोग कह रहे है की स्वयं को दलितों का स्वयंभू ठेकेदार बताने वाला रावण केवल उन्हीं मामलों पर अपनी जुबान खोलता है, जो किसी सर्वण से होते हैं। उसका मकसद केवल किसी सर्वण और हिन्दू को पॉइंट करना होता है। आपको बता दे की अभी कुस्च दिन पहले उत्तर प्रदेश में एक दलितों की बस्ती पर समुदाय विशेष के लोगो ने नुक्सान पहुँचाया था, तब यह भीम आर्मी और इसका सरगना रावण शांत रहा था। जबकि यह खुद को दलितों का ठेकेदार बताता है।



आपको बता दे की भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर रावण पर FIR के पीछे काजल सिंगाला की लम्बी जंग है। काजल सिंगला ने बताया की करीब 3 साल से भीम आर्मी के लोग और चीफ चंद्रशेखर रावण के गुर्गे उन्हें पीछे पड़े है। उन्हें स्टॉक भी किया जाता है। उनकोने कहा की वे तो देश के लिए आवाज़ उठती है, परन्तु भीम आर्मी और चंद्रशेखर रावण को क्या तकलीफ होती है। उन्होंने कभी भीम आर्मी को पॉइंट नहीं किया।

काजल ने बताया की एक समाज सेविका होने के नाते कोरोना लॉक डाउन में अनेक दलितों को मदत और राशन पहुंचाने का काम उनके द्वारा करवाया गया और अनेक लोगो ने उन्हें सपोर्ट किया। परन्तु बार बार मेरी जाती को क्यू टार्गेट करते है ये भीम आर्मी वाले। ‪आख़िर ब्रह्मणो से इतनी नफ़रत क्यू है। ‪आप लोग क्यू जातिवाद फैलाते हो। दलित भी हिंदू है, आप क्यू समाज को गुमराह कर रहे हो।



काजल ने चंद्रशेखर के इन ट्वीट को आज शेयर करते हुए लिखा है, “तथाकथित दलित ठेकेदार भीम आर्मी चीफ की असलियत, खुद को महिलाओं का हितैषी बताने वाला ये दलितों का ठेकेदार बना फिर रहा है, आज इसके घटियापन का सबूत दे रही हूँ। अगर आपको अपनी बहन-बेटियों की इज़्ज़त की थोड़ी सी भी परवाह है तो इन ‘जय भीम जय मीम’ के दलालों को फ़ॉलो करना बंद कर दीजिए।” आप यह ट्वीट्स खुद देख सकते हैं। माफ़ करना, हम आपको बताने के लिए भी इस बेहूदी भाषा को नहीं लिख सकते।

काजल हिंदुस्तानी द्वारा भीम आर्मी चीफ के ट्वीट पोस्ट करने के बाद चंद्रशेखर ने अपने ये ट्वीट डिलीट तो कर दिए, परन्तु उनके ये स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं। चन्द्रशेखर द्वारा इन ट्वीट में इस्तेमाल की गई भाषा बेहद बटुली और गिरी हुई हैं। इस प्रकार की मानसिकता वाले आदमी को ऐसे खुल्ला नहीं रहना चाहिए, बल्कि जेल की सलाखों के पीछे होना चाहिए।

अब इस ट्वीट्स को देखकर यूजर कह रहे है की यह भीम आर्मी चीफ की असलियत है। यदि यह दूर की महिलाओं के लिए उनकी मानसिकता हो, तो अपने आसपास दिखने वाली महिलाओं के बारे में क्या कल्पना करता होगा। यदि ऐसे लोग किसी समूह या कोई कथित गुट को लीड कर रहे है तो यह बहुत ही चिंताजनक है।



काजल हिंदुस्तानी (Kajal Hindustani) को भीम आर्मी (Bhim Army) और उसके सरगना द्वारा लम्बे वक़्त से परेशान किया जा रहा था। अब जाकर चन्द्रशेखर पर FIR दर्ज़ हुई और कानून के अपना काम करना शुरू कर दिया है। एक ट्विटर उसवेर ने एक मस्तिष्क की तस्वीर को दर्शाकर यह बताने की कोशिश की है की भीम आर्मी के फाउंडर चंद्रशेखर रावण के दिमाग में कितनी गन्दगी भरी पड़ी है। ऐसे ओछे विचार किसी गंदे दिमाग में ही उपज सकते हैं।

इन सबके बाद चंद्रशेखर ने अपने बचाव में ड्रामा करते हुए अपने उसी ट्वीटर अकाउंट से रीट्वीट करते हुए बताया की “साथियों जय भीम, इस नीचे दिए गए ट्विटर अकाउंट को भीम आर्मी का एक समर्थक चलाता था, जिनसे हमने ये अकाउंट ले लिया है और आगे भीम आर्मी संस्थापक भाई चन्द्रशेखर आज़ाद इस अकाउंट को इस्तेमाल किया करेंगे।” लोग कह रहे है की साफ़ समझ आ रहा है की किसी और के नाम पर बात घुमा दी जा रही है भीम आर्मी द्वारा।

भीम आर्मी चीफ ने घूमते हुए ड्रामा किया की “स्पष्ट कर दूं कि यह ट्विटर एकाउंट फरवरी 2018 में बना है और मैं सितंबर 2018 में जेल से रिहा हुआ। किसी कार्यकर्ता ने मुझे यह एकाउंट दिया। बाबा साहेब का सिपाही हूँ और बहन बेटियों का सम्मान सर्वोपरि है। ट्वीट बहुत ही गलत हैं। मैं एकाउंट में सुधार कर रहा हूँ। जय भीम, जय भारत।” आपको बता दे की सोशल मीडिया पर यूजर इसे भीम आर्मी का झूठ बता रहे है और बचने के लिए दलितों के कथित ठेकेदार के ड्रामे को समझ भी रहे है। अगर पुलिस और साइबर सेल ने जाँच की और भीम आर्मी प्रमुख रावण पकड़ा गया तो उसे लम्बी सजा होने की पूरी आशंका है।


Share This Post
Nitin Chourasia
Nitin Chourasia
Uploaderleaks is online news portal in Hindi. Nitin Chourasia is the founder and chief editor of this portal. If any query mail on uploaderleaks@gmail.com
http://www.uploaderleaks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *