Home > India > महिला सब-इंस्पेक्टर को भारी पड़ा ऑनलाइन बिजनेसमैन से रंगदारी और वसूली करना: VIDEO

महिला सब-इंस्पेक्टर को भारी पड़ा ऑनलाइन बिजनेसमैन से रंगदारी और वसूली करना: VIDEO

JaipurLadySI LadySIBabita
Spread the love




आजकल के सोशल मीडीया के ज़माने में कोई अपराध करके बच या भाग नही सकता। ख़ासकर के ऑनलाइन वर्कर्स तो अब पोलीस से भी एक कदम आगे हैं। राजस्थान की राजधानी जयपुर में रंगदारी और वसूली पर बड़ी कार्रवाई करते हुए एंटी करप्शन ब्यूरो ने एक महिला सब इंस्पेक्टर को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है।

5 लाख रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा है। महिला सब इंस्पेक्टर बबीता जयपुर के शिप्रा पथ थाने में पदस्थ हैं। सब इंस्पेक्टर बबीता ने एक ऑनलाइन काम करने वाले बिजनेसमैन से 50 लाख रुपए की घूस रंगदारी कर मांगी और 45 लाख रुपए में सौदा तय हो गया। जयपुर के शिप्रा पथ मानसरोवर थाना में 7 अगस्त को तैनात SI बबीता को ASB (एंटी करप्शन ब्यूरो) ने 5 लाख रूपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

परिवादी अपनी ऑनलाइन कम्पनी के जरिए सर्विस प्रोवाइडर का काम करता है। कुछ समय इस कम्पनी द्वारा बिटकॉइन के रूप में अपना पेमेन्ट लिया गया था। जिसकी रिकॉर्डिंग नज़ाने कैसे जयपुर पोलीस की सब-इंस्पेक्टर बबीता के हाथ लग गई। यह रिकॉर्डिंग हाथ लगने के बाद बबीता परिवादी को ब्लैकमेल करने लगी और रिस्वत नहीं देने पर मुकदमा दर्ज कर फसाने की धमकी देने लगी।



मीडीया से मिली जानकारी के अनुसार सब-इंस्पेक्टर ने परिवादी ऑनलाइन कर्मी के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं करने के बदले रिश्वत मे 50 लाख की रकम मांगी थी। फिर सौदा 45 लाख मे ही गया और रिसवत की पहली किश्त के रूप में 5 लाख की राशि लेते हुए दोनों पोलिस कर्मी बबिता और उसका पति एसीबी की गिरफ्त में आ गए।

सब-इंस्पेक्टर बबिता ने सोचा होगा की उसको सोने का अंडा देने वाली मुर्गी मिल गई है। किंतु उसे नही पता था की उसकी मुर्गी पड़ोसी से ग्गारे जाके अंडे दे आई है। मतलब ब्लॅकमेल हो रहे बंदे ने को इसकी सूचना दे दी थी।



Facebook Comments

Spread the love
Nitin Chourasia
Nitin Chourasia
Uploaderleaks is online news portal in Hindi. Nitin Chourasia is the founder and chief editor of this portal. If any query mail on uploaderleaks@gmail.com
http://www.uploaderleaks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!