Home > India > जबलपुर जनता द्वारा भगाया गया ‘हार्दिक पटेल’, ट्वीट कर सांसद ‘राकेश सिंह’ को कहा अपशब्द

जबलपुर जनता द्वारा भगाया गया ‘हार्दिक पटेल’, ट्वीट कर सांसद ‘राकेश सिंह’ को कहा अपशब्द

HardikPatelNews JabalpurHindiNews
Spread the love

जबलपुर । आज गुजरात का कथित पाटीदार नेता मध्यप्रदेश के जबलपुर शहर आया और इनके आने से बड़ा हंगामा खड़ा हो गया। जबलपुर से पनागर तक 14-15 किमी के रास्ते में कथित पाटीदार हार्दिक पटेल के काफिले पर 11-12 से जगह पत्थर व अंडे बरसाए गए। हार्दिक पनागर में अखिल भारतीय OBC महासभा में आयोजित किसान सम्मेलन में शिरकत करने आया हुआ था।


लगभग 2 से 3 बज़े दिन मे हार्दिक पटेल जबलपुर से पनागर की ओर चला ही था कि आगा चौक, अधारताल, अधारताल आगे, सुहागी, महाराजपुर और पनागर तक 11-12 जगह पर जबलपुर की जनता द्वारा उनके खिलाफ नारे लगाए और पत्थर-अंडे उसकी गाड़ी पर फेंक कर विरोध जताया। हंगामे के कारण पनागर में उनका काफिला कुछ देर के लिए ठहरा भी रहा, तब हार्दिक पटेल को समझ आ चुका था की यह गुजरात का मेहसाणा नही मध्यप्रदेश का जबलपुर है बड्डे।

जबलपुर के पनागर में हार्दिक पटेल ने केवल 6 मिनट का भाषण दिया। इसमें कहा कि “म॰प्र के जबलपुर में मामा शिवराज के चेलो ने हमारा स्वागत अंडे से किया, आज जबलपुर से पनागर जाते वक़्त आगाचोक पर मेरी गाड़ी पर जमकर अंडे बरसाए और नामर्दों की तरह भागकर चले गए, अरे मामा शिवराज अंडे से यह हार्दिक नहीं रुकने वाला, बंदूक़ की गोली चलाओ !! जब तक रक्त है मुझमें लड़ाई जारी हैं।”

गुस्से से बौखलाया और तिलमिलाया कथित पाटीदार नेता और कॉंग्रेस की शह पर चलने वाला हार्दिक पटेल गुस्से मे जबलपुर के भाजपा सांसद और भाजपा मध्यप्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह को भी अपशब्द बोल गया और अपने ट्विटर हॅंडल से ट्वीट भी किया की “भाजपा पूरी तरह म॰प्र में पागल हो रही हैं। फिर से पुलिस की हाजरी में हमारे क़ाफ़िले पर पत्थर फेंके गए !! मामा शिवराज के राज में भाजपा के कार्यकर्ता गुंडे बने फिर रहे हैं। आज पता चला की मैं बच्चा नहीं हूँ। जबलपुर में भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष रहता हैं और सब पागल हो गए हैं।”



ऐसा ट्वीट करके हार्दिक पटेल ने अप्रत्यक्ष रूप से जबलपुर सांसद राकेश सिंह को अपशब्द कह डाला। जबलपुर सांसद राकेश सिंह भारतीय जनता पार्टी मध्यप्रदेश अध्यक्ष भी हैं। ऐसे मे सांसद राकेश सिंह का नाम लेते हुए यह कहना की “सब पागल हो गए हैं” एक सोची समझी ओछी राजनीति का हिस्सा मालूम पड़ता है।

गुजरात के दंगाई और सज़ा याफ़्ता हार्दिक पटेल ने जबलपुर के पनागर मे किसानों को बरगालाने के बहुयत प्रयास किए और अपने जाल मे फसाने के प्रयास मे कहा की “हमें कंधे से कंधा मिलाकर चलने वाले सिर्फ 200 किसानों की जरूरत है, हम व्यवस्था को बदल देंगे। किसान अपना अधिकार हासिल करने के लिए जागरूक होकर खुद को मजबूत बनाएं रखें। हार्दिक पटेल ने नर्मदा में अवैध रेत उत्खनन, भावांतर योजना, बेरोजगारी को लेकर भी म॰प्र सरकार पर निशाना साधा।




सभा स्थल पर बुधवार से ही पुलिस बल को तैनात कर दिया गया क्योंकि बुधवार को जिला प्रशासन ने पनागर में हार्दिक पटेल की सभा आयोजित करने की अनुमति दे दी थी। इस पर भी हार्दिक पटेल झूठ बोल गया की “,शिवराज मामा ने मेरे सभी किसान कार्यक्रम की अनुमति निरस्त कर दी हैं। मैं मध्यप्रदेश में पाँच दिन रहूँगा और जबलपुर, सतना, इन्दोर, भोपाल, मंदसौर के किसान और युवाओं से मिलूँगा !! जय किसान”। जबकि सच यह है की सभा से एक दिन पहले ही जिला प्रशासन ने सभा की अनुमति दे दी थी।

Facebook Comments

Spread the love
Nitin Chourasia
Nitin Chourasia
Uploaderleaks is online news portal in Hindi. Nitin Chourasia is the founder and chief editor of this portal. If any query mail on uploaderleaks@gmail.com
http://www.uploaderleaks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!