Home > Leaks > भारतीय ज्यादा पैसा कमाने के चक्कर में सऊदी देशों में गुलाम बनाये जा रहे, युवक ने बताई आपबीती

भारतीय ज्यादा पैसा कमाने के चक्कर में सऊदी देशों में गुलाम बनाये जा रहे, युवक ने बताई आपबीती

Indian in Saudi
Share This Post

Demo Image Used




New Delhi: आजकल भारत में ट्रेंड युवारों में बहुत ज़ोर पकडे हुए है की विदेशों में जाकर नौकरी करों तो बहुत पैसा मिलेगा खासकर के गल्फ देशो या सऊदी जैसे देशो में। अनेकों मामलों में सच कुछ और ही होता है। बहुत से भारतीय इन देशों में अभी भी फंसे हुए हैं। सबसे रहीश फुलफ देश सऊदी अरब में तीन साल और 6 महीने तक एक रहीश शेख के चंगुल में फंसे रहने वाले फिल्लौर पंजाब निवासी सुरेश तिवारी जब घर पहुंचे, तो उनके परिवार ने चैन की सांस ली।

अपने देश और घर घर पहुंचने पर, सुरेश तिवारी ने उसके साथ घाटी दर्दनाक घटना के बारे में मीडिया को बताया। सऊदी में यह 17-18 घंटे तक काम करना पड़ता था और जानवरों को दिए जाने वाले भोजन को खिलाया जाता था। इसके बाद जब तिवारी ने अपना वेतन मांगा, तो शेख ने उसे पीटा।

सुरेश ने एक अखबार को बताया कि अगस्त 2016 में, एक फिल्लौर ट्रैवल एजेंट ने झांसा दिया था कि सऊदी अरब में सुरक्षा गार्ड की नौकरी मिल जैदी और उसे अच्छा धन भी मिलेगा। फिर सुरेश फिल्लौर की निजी फर्म की अपनी अच्छी नौकरी छोड़कर पैसा खर्च करके सऊदी अरब चले गए। वहां पहुंचने पर, वह एक शेख के खेत और पोटरी फार्म में काम पर रखा गया था।



जब उसने एजेंट को इस बारे में बताया, तो एजेंट ने कहा कि कुछ दिनों के बाद वह उसे कहीं और नौकरी दिलवा देगा। सुरेश ने बताया की सऊदी में नौकरी करते हुए केवल 10-11 दिन हुए थे की झारखंड का एक युवक जो 4 साल पहले से वहीँ काम कर रहा था, उसने सऊदी शेख के अत्याचारों जुल्मों से तंग आकर आत्म दाह कर लिया।

सुरेश तिवारी ने बताया की डेढ़ साल तक तो ठीक चला, किन्तु जब उसने अपने घर लौटने की बात की , तो सऊदी शेख ने उसका वेतन ही रोक दिया और उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। शेख के खेत में लगभग 55 गायें और 220 बकरियां थीं, जिन्हें सुबह चार बजे उठकर नहलाना, साफ़ सफाई करना हुए दूध धोना पड़ता था। इसके बाद साम को हाथ से चारा काटना पढता था और रात में 10 बजे तक काम करना पढता था। सुरेश के साथ दो अन्य लोग भी थे, जो सूडान के रहने वाले थे। उनका भीयहि हाल था।




सुरेश के अनुसार, खेत के चारों ओर ऊंची दीवार थी। वे वहीँ बाहर भी नहीं जा सकते थे। जब उसने शेख से पैसे और मेहनताना माँगा तो सेठ ने उसे पीट दिया। सुरेश ने अखबार को बताया की, स्थिति ज्यादा भरब होने पर उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया और मदद की गुहार लगाई। इसके बाद, गांव का एक युवक उसकी मदद करने के लिए आगे आया और दिवार फांदने को कहा।

इसके बाद, सुरेश को हौसला मिला और वह ऊँची ऊंची दीवार फांदकर बाहर आ गया। फिर वे कई किलोमीटर तक दौड़े। फिर उस युवक ने सुरेश तिवारी को भोजन कराया और फिर भारतीय दूतावास छोड़ दिया। फिर सुरेश के मालिक शेख को बुलाया गया और सऊदी अदालत ने उसे 11,000 रियाल और पासपोर्ट देने का आदेश दिया।


Share This Post
Nitin Chourasia
Nitin Chourasia
Uploaderleaks is online news portal in Hindi. Nitin Chourasia is the founder and chief editor of this portal. If any query mail on uploaderleaks@gmail.com
http://www.uploaderleaks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *