Home > India > जबलपुर में भाजपा के राकेश सिंह का जन समर्थन देख कांग्रेस भड़की, फिर किया ये काम

जबलपुर में भाजपा के राकेश सिंह का जन समर्थन देख कांग्रेस भड़की, फिर किया ये काम

RakeshSingh JabalpurNews
Spread the love





मध्यप्रदेश की संस्कारधानी कहे जाने वाले शहर जबलपुर को अपनी प्राकृतिक ख़ूबसूरती और नर्मदा नदी के लिए जाना जाता है। इन दिनों जबलपुर शहर काफी चर्चा में है। भाजपा के मध्यप्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह यही जबलपुर से सांसद हैं और 2019 में भी यही से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। राकेश सिंह का जबलपुर में अच्छा खासा दबदबा है और जनता का भारी समर्थन भी।

जबलपुर की जनता द्वारा भाजपा सांसद राकेश सिंह को दिए जा रहे अपार समर्थन और स्नेह के चलते कांग्रेस खेमे में बेचैनी देखी जा रही है। आपको बता दें को राकेश सिंह जब जबलपुर जिला निर्वाचन कार्यालय में रिटर्निंग ऑफिसर के रूम में पहुंचे थे तब उन्हें जनता का भारी समर्थन मिला था और भारी भीड़ जमा हो गई थी।



जबलपुर में हार के डर से कांग्रेस की ओर से अब FIR की पॉलिटिक्स खेलते हुए राकेश सिंह पर भीड़ लेकर जाने के केस में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगा दिया गया और मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह के साथ साथ तीन अन्य भाजपा के बड़े नेताओं के खिलाफ जबलपुर के ओमती थाने में FIR दर्ज करवा दी गई। जिन भाजपा नेताओ पर पुलिस केस दर्ज़ करवाया गया है उनमे सांसद प्रहलाद पटेल, पूर्व राज्यमंत्री शरद जैन और वीडी शर्मा के साथ अन्न लोगो ने नाम सामने आएं हैं।

कांग्रेस खेमे की बौखलाहट और कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी विवेक तनखा की हार के डर से कांग्रेस नेताओ की शिकायत पर भाजपा के प्रदेश अध्यक राकेश सिंह को नोटिस जारी करा दिया गया है।




आपको बता दें की जबलपुर लोकसभा के BJP प्रत्याशी राकेश सिंह ने सोमवार को रोड शो किया था, जिसमें उनके साथ कार्यकर्ताओं की भीड़ के अलावा जनता भी शामिल हो गई थी। इसी भीड़ के साथ सांसद राकेश सिंह निर्वाचन कार्यालय गए और वहां नामांकन परचा भरा था। यहाँ राकेश सिंह को जबलपुर की जन मानुष का इतना समर्थन मिला की कमलनाथ खेमे में आंग लग गई और कमलनाथ के मीडिया सहयोगी नरेंद्र सलूजा ने मुख्य निर्वाचन आयोग से राकेश सिंह और उनके साथ रहे सभी भाजपा नेताओं के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज करवा दिया।




असल में यहाँ पर राकेश सिंह के खिलाफ कांग्रेस ने एक नियम का सहारा लिया है, नियम के अनुसार नामांकन पत्र दाखिल करने के समय निर्वाचन अधिकारी के पास नेता के अलावा 4 लोग और जा सकते हैं।

जब प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नामांकन दाखिल करने पहुंचे थे, तब उनके साथ लोगों का पूरा का पूरा हुजूम साथ था। जिसके चलते नरेंद्र सलूजा ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।


यहाँ पर भाजपा नेता राकेश सिंह के साथ अन्न 4 भाजपा नेता ही थे, किन्तु इनको पसंद करने वाली जनता की भीड़ भी वहां खुद ब खुद पहुँच गई थी। जिस वजह से कांग्रेस को राकेश सिंह पर निशाना साधने का एक मौका मिल गया। कांग्रेस की समझ गई की जबलपुर में भाजपा नेता राकेश सिंह को हराना नामुमकिन है और कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तनखा की लोक सभा की डगर बहुत मुश्किल है।



Spread the love
Nitin Chourasia
Nitin Chourasia
Uploaderleaks is online news portal in Hindi. Nitin Chourasia is the founder and chief editor of this portal. If any query mail on uploaderleaks@gmail.com
http://www.uploaderleaks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *